दिल्ली दंगे में पुलिस ने मीडिया रिपोर्ट ख़ारिज करी

दिल्ली : शनिवार की शाम पी0 टी0 आई0 ने एक ट्वीट जारी किया जिसमें कहा गया कि योगेंद्र यादव, सीताराम येचुरी, अपूर्वानंद, जयंती घोष आदि के नाम दिल्ली दंगों में एक साज़िशकर्ता के रूप में आरोप पत्र में हैं।

थोड़ी देर बाद पी0 टी0 आई0 ने एक और ट्वीट किया कि इन सबका नाम किसी एक अभियुक्त के बयान में लिया गया है। यानी आरोपपत्र में इनका नाम किसी स्वयं किसी अभियुक्त के तौर पर नहीं है।

दिल्ली पुलिस ने शनिवार को उन मीडिया रिपोर्ट्स को ख़ारिज किया है।

खेल हालांकि शनिवार शाम समाचार एजेंसी पीटीआई के एक ट्वीट को लेकर तीखी राजनीतिक प्रतिक्रिया आने लगी थी, जिसमें बताया गया था कि इनके नाम सह-साज़िशकर्ता के तौर पर पूरक आरोपपत्र में हैं।

योगेंद्र उन्होंने पीटीआई के ट्वीट को रीट्वीट किया “यह रिपोर्ट तथ्यात्मक रूप से ग़लत है और उम्मीद है कि पीटीआई इसे वापस ले लेगा। पूरक चार्जशीट में मुझे सह-षड्यंत्रकारी या अभियुक्त के रूप में उल्लेख नहीं किया गया है। पुलिस की अपुष्ट बयान में एक अभियुक्त के बयान के आधार पर मेरे और येचुरी के बारे में उल्लेख किया गया है जो अदालत में स्वीकार्य नहीं होगा। “