14/1 – गैंगस्टर एक्ट के तहत पूर्व सांसद अतीक अहमद का कार्यालय कुर्क एवं ज़प्त

प्रयागराज : योगी के ऑपरेशन क्लीन के तहत आज दोपहर प्रयागराज पुलिस ने पूर्व संसद अतीक अहमद का आर्थिक साम्राज्य ढहाने के लिए एक वारकिया। अतीक अहमद के चकिया स्थित कार्यालय को डी0 एम0 के आदेशानुसार ज़प्त करने का नोटिस चिपका दिया गया है।

इसके अलावा 13 और प्रापर्टी में सिविल लाइन्स के अली टावर ,और सिविल लाइन्स बस स्टैंड के सामने की ज़मीन भी शामिल है इसके आलावा अतीक के घर के बगल में 2 मकान और शहर के कई इलाको में बने मकानों को सीज करने की कार्यवाहीका आदेश हो चूका है जो 28 अगस्त के अंदर सीज कर दी जाएगी। 

16 ऐसी कम्पनियां चिन्तिह की है जिसमे अतीक अहमद का शेयर है । इन कम्पनियों की आर्थिक जांच के लिए पुलिस ने ED को पत्र भेजा है । इन 16 कम्पनी में कई रियल स्टेट कारोबार और शॉपिंग मॉल भी शामिल हैपुलिस ने अतीक का आर्थिक साम्राज्य ढहाने के लिए 16 ऐसी कम्पनियां चिन्तिह की है जिसमे अतीक अहमद का शेयर है । इन कम्पनियों की आर्थिक जांच के लिए पुलिस ने ED को पत्र भेजा है । इन 16 कम्पनी में कई रियल स्टेट कारोबार और शॉपिंग मॉल भी शामिल है।

1989 के बाद से अतीक के खिलाफ एक के बाद एक हत्या डकैती लूट रंगदारी अपहरण ज़मीन कब्ज़े के कई मामले दर्ज है। इस वक्त अतीक के ऊपर 90 मुकदमे दर्ज है – जिसमे विधायक राजू पाल हत्याकांड और देवरिया जेल में बिल्डर मोहित जायसवाल को पीटने और उसकी कंपनी को अपने नाम कराने की जांच सीबीआई कर रही है।